Increase / Decrease
Choose color

जब माता-पिता हों साथ तो फिक्र की क्या बात

यह एपिसोड मेरे सबसे अच्छे दोस्त के और मेरे बारे में है और यह एक ऐसे पहलू की ओर ध्यान आकर्षित करता है, जिसे ज्यादा नहीं जाना जाता और फिर भी यह किशोरावस्था को प्रभावित करने वाले सबसे महत्वपूर्ण कारकों में से एक है – किशोरों का अपने माता-पिता से संबंध। एक प्रतिस्पर्धी दुनिया में, अक्सर लोग अपने सपनों और सच्चाई के बीच जूझते हुए, अपने डर, बेचैनियों और असमंजस में जीते हुए बड़े होते हैं। इस एपिसोड में चारू और रिया, दो किशोरवय सहेलियाँ कहती हैं “मुझे नृत्य करना पसंद है, लेकिन पापा ऐसा नहीं चाहते”, जबकि वे दोनों इस बात से सहमत हैं कि उनकी माँएं उन्हें इस बात की स्वतंत्रता देती हैं और उनसे वे गोपनीय बातें भी कह सकती हैं, खासकर लॉकडाउन के दौरान पीरियड्स आने के बारे में बता सकती हैं।