लव, सेक्स और जानकारी

पॉडकास्ट का पहला एपिसोड, जो यौन इच्छाओं और स्वास्थ्य से संबंधित है। दो युवा लोगों की प्रेम, सेक्स और इच्छाओं से संबंधित बातचीत के माध्यम से यह पॉडकास्ट इन विषयों से संबंधित प्रश्नों, चिंताओं और टैबू का समाधान करता है। इस एपिसोड में युवा लोगों में सेक्स की बात करने में शर्म, असहजता और अजीब महसूस होने पर भी प्रश्न उठाया गया है। इसके साथ ही, सेक्स संबंधी जानकारी और गर्भनिरोधकों तक लड़कियों की पहुँच न होने को भी दिखाया गया है। ऐसे मामलों के उदाहरण देते हुए, यह एपिसोड प्रौद्योगिकी तक पहुँच में लैंगिक भेदभाव पर भी प्रकाश डालता है और ऐसे तरीकों की चर्चा करता है, जिससे डिजिटल तकनीक का जिम्मेदार तरीके से उपयोग किया जा सके।

शादी के सपने और मातृत्व

इस एपिसोड में लड़कियों के दृष्टिकोण से विवाह संस्था के बारे में बात की गई है। अधिकांश लड़कियों के लिए, शादी पसंद या विकल्प की बात नहीं, बल्कि एक नियम है, जिसे मानना ही है। उदय नाम की परियोजना में शोध से प्राप्त निष्कर्ष इस वास्तविकता को भी रेखांकित करते हैं, जो कि लड़कियों के लिए कड़वा सच है। यह एपिसोड 23 वर्ष की हुसैना और इस्बा के बीच वार्तालाप है, जो विवाह और मादृत्व संबंधी उनके अनुभवों पर आधारित है।

शिक्षा, रोजगार और अवसर

यह पॉडकास्ट एपिसोड युवा लोगों के लिए शिक्षा और रोजगार के अवसरों को ध्यान में रखकर बनाया गया है। यह लड़कियों के लिए पसंद-नापसंद की स्वतंत्रता की अवधारणा पर भी ध्यान केंद्रित करता है; यह सवाल उठाता है कि क्या लड़कियाँ अपने विषय, शिक्षा का स्तर और अपने लिए नौकरियों का चुनाव कर सकती हैं। इस एपिसोड में लड़कियों के स्कूल छोड़ने की अधिक दरों को चर्चा का विषय बनाया गया है और पारिवारिक आय, लड़कियों की शिक्षा के प्रति सामाजिक रुझान और उनकी माँ की शिक्षा का स्तर लड़कियों के स्कूल छोड़ने की अधिक दरों के कारण बनते देखे गए हैं। इस पॉडकास्ट में दो युवा लड़कियाँ अपनी शिक्षा, करियर और महत्वाकांक्षाओं की चर्चा करती हैं। पढ़ने और काम करने की उनकी अपनी इच्छा भी इस एपिसोड में दो दोस्तों के बीच चर्चा का एक मुख्य हिस्सा है। 

जब माता-पिता हों साथ तो फिक्र की क्या बात

यह एपिसोड मेरे सबसे अच्छे दोस्त के और मेरे बारे में है और यह एक ऐसे पहलू की ओर ध्यान आकर्षित करता है, जिसे ज्यादा नहीं जाना जाता और फिर भी यह किशोरावस्था को प्रभावित करने वाले सबसे महत्वपूर्ण कारकों में से एक है – किशोरों का अपने माता-पिता से संबंध। एक प्रतिस्पर्धी दुनिया में, अक्सर लोग अपने सपनों और सच्चाई के बीच जूझते हुए, अपने डर, बेचैनियों और असमंजस में जीते हुए बड़े होते हैं। इस एपिसोड में चारू और रिया, दो किशोरवय सहेलियाँ कहती हैं “मुझे नृत्य करना पसंद है, लेकिन पापा ऐसा नहीं चाहते”, जबकि वे दोनों इस बात से सहमत हैं कि उनकी माँएं उन्हें इस बात की स्वतंत्रता देती हैं और उनसे वे गोपनीय बातें भी कह सकती हैं, खासकर लॉकडाउन के दौरान पीरियड्स आने के बारे में बता सकती हैं।

नागरिकता

आज के युवाओं के लिए नागरिकता का क्या अर्थ है? निर्णय-प्रक्रिया पर केंद्रित सबसे महत्वपूर्ण कारक से संबंध और मतभेद क्या हैं, एजेंसी? पॉडकास्ट श्रृंखला का यह एपिसोड इन प्रश्नों और वार्तालापों पर केंद्रित है। शिक्षा और करियर की संभावनाओं पर भी चर्चा किए गए थे।

डिजिटल मीडिया और जेंडर

यह वीडियो आजकल डिजिटल मीडा के उपयोग और अनिवार्यता का वर्णन करता है, जिसमें एक जेंडर आधारित कहानी पर फोकस किया गया है, यानि लैंगिक भेदभाव पर। डिजिटल मीडिया का उपयोगकर्ता होने के लाभ और हानियाँ बताई गई हैं और सुरक्षा संबंधी युक्तियाँ और उपाय बताए गए हैं, जैसे साइबर धमकी से निपटने के विकल्प। डिजिटल मीडिया स्पष्ट रूप से असरदार है, जिसमें कोई दो राय नहीं हो सकती और इसे लाभ के रूप में दिखाया गया है, लेकिन इसके संभावित खतरों पर भी बात की गई है।

पोषण और स्वास्थ्य

इस श्रृंखला की अंतिम कड़ी का वीडियो पोषण और स्वास्थ्य पर गहरी जानकारी देता है। यह मुख्य रूप से उत्तर प्रदेश और बिहार पर आधारित है और इसमें मानसिक और शारीरिक स्वास्थ्य को शामिल किया गया है। इसमें बताया गया है कि अच्छा पोषण किस प्रकार संपूर्ण स्वास्थ्य को प्रभावित करता है, जिसमें मुख्य रूप से किशोरियों का ध्यान रखा गया है। इसमें रक्ताल्पता, गर्भनिरोध के उपायों के प्रति जागरूकता और उनके उपयोग तथा स्वास्थ्य की समग्र समझ पर बात की गई है। 

शिक्षा, पहुँच और युवा, एक नए सफर की ओर

पहले वीडियो में अध्ययन से संबंधित भौगोलिक क्षेत्र में औपचारिक शिक्षा प्रणाली में स्कूल छोड़ने की दर दिखाई गई है और इस खास श्रृंखला में इसी बात पर फोकस किया गया है। शिक्षा तक पहुँच में लैंगिक, जातिगत तथा आय के स्तर के चलते बड़ा अंतर आता है, जिसे यहाँ रोमांचक और आकर्षक एनिमेशन के द्वारा दिखाया गया है। उदय परियोजना के डेटा पॉइन्ट, जैसे माँ की शिक्षा का स्तर बच्चों की शिक्षा के स्तर को सीधा प्रभावित करता है, आदि के बारे में इसमें विस्तार से बताया गया है।

सरकारी नीतियों का विषय भी उठाया गया है और एनिमेशन स्वयं में समाधान-आधारित मानसिकता रखकर बनाया गया है, जैसे इस परिस्थिति से निबटने और निकलने के सबसे अच्छे तरीके खोजना, जैसा कि एनिमेशन के शीर्षक से भी प्रतिबिम्बित होता है। माता-पिता तथा अभिभावकों द्वारा किया गया निवेश और व्यक्तिगत रूप से उठाया गया कदम एक प्रमुख, लेकिन कम आकलित बिन्दू है, जिसे यहाँ उठाया गया है। डेटा पॉइन्ट का एनिमेशन में अनुवाद किया गया है, जिससे थीम और समस्याओं को अधिक पहुँच योग्य बनाना या जसके, जिसका मेरे सबसे अच्छे दोस्त और मैं श्रृंखला में फिर उपयोग किया जाएगा।